Press Note – Seminar on Caste problem – Ludhiana

September 19, 2016

जातीवाद की समस्या और इसका हलविषय पर विचार गोष्ठी का आयोजन हुआ

11 सितम्बर, 2016, लुधियाना। आज यहाँ जमालपुर स्थित डॉ. अम्बेडकर धर्मशाला में बिगुल मकादूर दस्ता द्वारा जातीवाद की समस्या और इसका हलविषय पर विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया। मकादूर बिगुलके सम्पादक साथी सुखविन्दर ने मुख्य वक्ता के तौर पर बात रखी। उन्होंने कहा जातिवाद की समस्या भारतीय समाज की बेहद गम्भीर समस्या है। आज भी करोड़ों लोगों को जाति आधारित लूट, दमन, अपमान का सामना करना पड़ता है। सुखविन्दर ने कहा कि भारत में आज से पच्ची सौ साल पहले जातिवाद का जन्म हुआ और उसके बाद लगातार रूप में बदलती हुई कायम है। आज जातिवाद पूँजीवादी व्यवस्था की सेवा कर रही है। सुखविन्दर ने कहा कि जातिवाद के खात्मे की परियोजना सिर्फ माक्र्सवाद के पास है। जातिवाद के खात्मे के लिए हालांकि पूँजीवाद के खात्मे की जरूरत है लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि जब तक यह नहीं होता तब तक जातिवाद के खिला$फ संघर्ष रोक दिया जाए। जातिवाद के खिला$फ हमें आज से ही लगातार संघर्ष करना होगा। उन्होंने कहा कि अन्तरजातिय विवाह जातिवाद पर बड़े स्तर पर चोट मारते हैं। हमें अन्तरजातिय पे्रम विवाहों को उत्साहित करना चाहिए। निजी जीवन में जातिवादी मुल्यमान्यताओं से सम्बन्ध विच्छेद करना चाहिए।

विचार गोष्टी को रजिन्द जण्डिआली, ताजमोहम्मद, घनश्याम, छोटेलाल, निर्भय, मस्तराम, तुल्सी प्रसाद, रामसेवक, जसप्रीत कौर, आदि ने भी सम्बोधित किया। सभी ने वक्ताओं ने कहा कि जातिवाद के खिला$फ काोरदार संघर्ष किया जाना जरूरी है। मंच संचालन लखविन्दर ने किया।

जारीकर्ता,

बलजीत, बिगुल मकादूर दस्ता,

फोन नं– 9781834232