Haryana – Update on clampdown against Oct 27 protest by Maruti workers

October 26, 2013

[The details of the scheduled protest can be found here. – Ed

कैथल में धारा 144 के लागु किये जाने का विरोध करें!
प्रशासन के अजनतांत्रिक रवैय्ये को चुनौती दें!

साथियों,
मारुति मजदूरों और हमारे परिजनों द्वारा 27 अक्टूबर को आयोजित किए जा रहे विशाल प्रदर्शन को रोकने के लिए प्रशासन ने पूरे कैथल जिले में धारा 144 लगा दी है| प्रशासन के इन हथकंडों से जनता भलीभांति वाकिफ है| विगत 18 मई की रात को इसी अजनतांत्रिक कानून का इस्तेमाल कर प्रशासन ने हमारे 100 साथियों को गिरफ्तार कर लिया था, ताकि मज़दूर 19 मई के लिए घोषित कार्यक्रम करने से पीछे हट जाएँ| किन्तु सरकार के इस शर्मनाक कदम का जवाब हमने तब भी अपने संघर्ष को और भी तेज़ करते हुए दिया था और आज भी हम विश्वस्त हैं कि सरकार की ऐसी हरकतें हमारे संघर्ष की गति मंद नहीं कर सकेगी|
प्रशासन के यह हथकंडे मात्र यह दर्शाते हैं कि इन शासकों के मन में आम जनता की न्याय की मांग के प्रति और हमारी अटल एकता के प्रति कितना भय है| बड़ी-बड़ी कंपनियों की सेवा में लुप्त उनकी लाठियां और गोलियां और उनके कानून जनता को और मूक नहीं रख सकेंगे| खेतों में आज फ़सल तैयार खड़ी है, क्या यह धारा 144 खेतों में भी लागु है? कंपनियों में हम हजारों मज़दूर साथ काम करते हैं, तभी यह मालिक इतना मुनाफ़ा कमा पाते हैं, क्या इस प्रशासन की हिम्मत है की यह वहां भी धारा 144 लगा सके?
कानून जनता के नाम पर बनाए जाते हैं पर आज सरकार द्वारा इस्तेमाल किये जा रहे कानून जनता और जीवन विरोधी हैं| इन कानूनों का इस्तमाल सरकार ने हर कदम पर हम आम मज़दूरों को उत्पीडित करने के लिए किया है| धारा 144 के माध्यम से सरकार द्वारा हमारे विरोध प्रकट करने के संवैधानिक अधिकार को छीनने की कोशिश के खिलाफ हम मारुति के कर्मचारियों ने कल सुबह 27 अक्टूबर को जिला उपायुक्त, कैथल के कार्यालय के सामने अपना प्रतिरोध दर्ज करेने और अपनी गिरफ्तारी देने का फैसला लिया है|
हम सभी से आग्रह करते हैं कि सरकार द्वारा कानून के नाम पर चलाए जा रहे गर्कनूनी और अजनतांत्रिक तंत्र को कड़ी चुनौती देने में मजदूरों और आम जनता के अधिकारों के लिए संघर्ष के साथ खड़े हों| वर्तमान स्थिति को नज़र में रखते हुए हमने कल के विशाल विरोध प्रदर्शन के कार्यक्रम को पुनर्निर्धारित करने का निर्णय किया है, जिसकी तारिख हम जल्द ही आपको सूचित करेंगे| हम उम्मीद करते हैं की हर बार की तरह इस बार भी हमारे संघर्ष को आपसे उत्साहजनक समर्थन और सहयोग मिलेगा|
मेहनतकशों का भाईचारा जिंदाबाद!
इंकलाब जिंदाबाद!
प्रोविजनल कमेटी, मारुति सुज़ुकि वर्कर्स यूनियन