Lucknow – Convention on the 4th anniversary of The Batla House fake encounter, Sep 19

Why has there been no judicial enquiry till now in the Batla House
Fake Encounter?
Why has the parliament been silent on Batla House Fake Encounter?
We demand answers from the Congress and Samajwadi Party Government!!

On the 4th anniversary of
The Batla House Fake Encounter
CONVENTION AGAINST THE COMMUNALISM OF CONGRESS, SAMAJWADI PARTY AND
INTELLIGENCE AGENCIES

Date – 19th September 2012, Wednesday
Time – 11.30am to 3pm
Place- UP Press Club, Lucknow

Forum for the release of innocents imprisoned in the name of terrorism
Contact: B.C. Medicine Market, Latouch Road, Lucknow.
09415012666, 09415254919, 09452800752, 09415164845

आतंकवाद के नाम पर कैद निर्दोषों का रिहाई मंच
सम्पर्क- लाटूश रोड लखनऊ
—————————————————

बाटला हाउस फर्जी मुठभेड़ की चैथी बरसी पर सम्मेलन
आज से शुरू हुआ खुफिया एजंेसियों की साम्प्रदायिकता के खिलाफ जनजागरण

लखनऊ 13 सितम्बर/ आतंकवाद के नाम पर कैद निर्दोषों का रिहाई मंच ने बाटला
हाउस फजऱ्ी मुठभेड़ की चैथी बरसी पर कांग्रेस-सपा और खुफिया एजेंसियों
की साम्प्रदायिकता के खिलाफ यूपी प्रेस क्लब लखनऊ में सम्मेलन करने की
घोषणा की।

रिहाई मंच के एडवोकेट मुहम्मद शुएब, एसआर दारापुरी, संदीप पाण्डेय,
शाहनवाज आलम, गुफरान सिद्किी और राजीव यादव ने कहा कि चार साल बीत जाने
के बाद भी कांग्रेस ने बाटला हाउस फर्जी मुठभेड़ की जांच नहीं करवाई। तो
वहीं आतंकवाद के नाम पर बेगुनाह मुस्लिम नौजवानों को छोड़ने के वादे के
साथ सत्ता तक पहुंची सपा सरकार ने वादा खिलाफी करते हुए तीन बेगुनाहों को
और भी पकड़ा। मई महीने में यूपी एटीएस के सहयोग से दिल्ली एटीएस ने शकील
को दुबग्गा से उठाकर उस पर आतंकवाद का आरोप मढ़ दिया। तो वहीं आजमगढ़ के
बिलरियागंज के जमीयतुल फलाह मदरसे के वसीम और सज्जाद बट को अलीगढ़ से
उठाकर उनकी गिरफ्तारी कश्मीर से दिखा दी। रिहाई मंच के नेताओं ने कहा कि
युवा मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कचहरी धमाकों के आरोप में गिरफ्तार युवा
तारिक-खालिद की गिरफ्तारी पर गठित आरडडी निमेष आयोग की रपट को दबा दिया
है। सपा के गुंडा लम्पट तत्वों की रिहाई और संसद में बटला हाउस मसले पर
उसकी आपराधिक चुप्पी तो जग जाहिर है।

रिहाई मंच के नेताअेां ने कहा कि मंच के कार्यकर्ता 13 से 19 सितम्बर तक
खुफिया एजेंसियों की साम्प्रदायिकता के खिलाफ जन जागरण अभियान चलाएंगे।
जिसके तहत शहर के विभिन्न इलाकों में परचा वितरण और हस्ताक्षर अभियान
किया जाएगा।

द्वारा जारी- शाहनवाज आलम, राजीव यादव
आतंकवाद के नाम पर कैद निर्दोषों का रिहाई मंच